करोड़ों की रंगदारी मांगने वाला हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तार

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के नाम का करता था इस्तेमाल

 4Captureपीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के नाम पर बिल्डर से एक करोड़ की रंगदारी मांगने वाले हिस्ट्रीशीटर के गिरफ्तार होते ही राजधानी पुलिस की साख पर एक बार फिर सवालियां निशान लग गया है। आरोपी करीब 10-12 साल से शहर में काम कर रहा था। इस बीच उसने करोड़ों रुपये की सम्पत्ति खड़ी कर ली। उसके ऊपर उत्तराखण्ड और जिला गाजीपुर में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं, इसके अलावा उसके ऊपर राजधानी में भी करीब 34 मुकदमें दर्ज हैं।
न्यू हैदरगंज रिंग रोड निवासी इमरान अली अपनी जमीन पर निर्माण करवा रहे थे। इस मामले की जानकारी जब नूर बेग, लकडमण्डी निवासी महेन्द्र जयसवाल को लगी तो वह इमरान को धमकी देने लगा। उसने निर्माण कार्य रोकने को कहा। साथ में उसने इमरान से कहा कि उसकी मर्जी के बिना वह कार्य करवाएंगा तो उसे बुरा अंजाम भुगतना पड़ेगा। अगर काम करवाना है तो वह उसे एक करोड़ रुपये की रंगदारी देनी पड़ेगी। इमरान ने पुलिस के आलाधिकारियों को इसकी जानकारी दी तो ठाकुरगंज पुलिस ने आरोपी महेन्द्र को घासमण्डी चौराहे से दबोच लिया।
कई कारोबारियों से ले चुका है रंगदारी
महेन्द्र बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का करीबी बताया जा रहा है। जब बाहुबली विधायक पेशी पर आते थे तो महेन्द्र उससे मिलने के लिए जाता था। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी महेन्द्र ने अभी तक बाहुबली विधायक के नाम पर कई कारोबारियों से रकम ऐंठ चुका है।
खंगाले जा रहे हैं अन्य अपराधिक मामले-सीओ चौक
सीओ चौक के मुताबिक महेन्द्र के ऊपर राजधानी में करीब 34 अपराधिक मामले दर्ज है। इसके अलावा उसके ऊपर उत्तराखण्ड में भी कई मामले दर्ज है। पड़ताल में सामने आया कि महेन्द्र गाजीपुर जिले का हिस्ट्रीशीटर है। वह मूलरूप से गाजीपुर जिले के दर्जी टोला का रहने वाला है। महेन्द्र के अन्य अपराधिक मामलों की जानकारी के लिए राजधानी पुलिस उत्तराखण्ड और गाजीपुर जिले से सम्पर्क कर रही है।

Pin It