ऑनलाइन जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बनने से जनता को मिली सहूलियत

नगर वासियों को मिल रही मैनुअल के साथ ऑनलाइन आवेदन की सुविधा
राजधानी में आवेदनकर्ता स्मार्ट फोन से करवा रहे हैं अपना सत्यापन

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम में जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाना अत्यधिक खर्चीला और समय लेने वाला काम माना जाता था लेकिन अब नगर वासियों को जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए कार्यालयों के चक्कर लगाने से राहत मिल गई है। इसके साथ ही आवेदन पत्र बनाने का काम भी पारदर्शी ढंग से होने लगा है।
नगर निगम में अब तक जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने की मैनुअल प्रक्रिया अपनाई जा रही थी। इसमें प्रमाण पत्र बनवाने के लिए लोगों को मैनुअली आवेदन पत्र भरना पड़ता था। इसके साथ ही समस्त संलग्नकों के साथ नगर निगम दफ्तर में उपस्थित होना पड़ता है। इसके बाद सारे प्रमाण पत्रों का सत्यापन करवाने में भी आवेदनकर्ता का काफी समय बर्बाद होता था। इसलिए नगर निगम के कुछ कर्मचारी आवेदनकर्ताओं को भागदौड़ कम करवाने और जल्द से जल्द सर्टिफिकेट बनवाने के नाम पर लूटते रहते थे, जिसकी शिकायतें आए दिन नगर आयुक्त और मेयर से की जाती थीं। आवेदनकर्ता को एक प्रमाण पत्र बनवाने के लिए जोनल ऑफिस से लेकर नगर निगम मुख्यालय तक का चक्कर लगाना पड़ता था। इसके बाद बाबू को खुश करने के लिए भी जेब ढ़ीली करनी पड़ती थी। इसलिए रजिस्ट्रार जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण ने सभी नगर निगमों और शहरी निकायों को प्रमाण पत्र बनाने की प्रक्रिया ऑनलाइन करने का निर्देश दिया था। इसलिए नगर निगम लखनऊ ने जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने की मैनुअल प्रक्रिया को पूरी तरह बंद कर दिया है। अब ऑनलाइन आवेदन पर नगर निगम जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करेगा। हालांकि अब तक प्रमाण पत्रों के लिए मैनुअल आवेदन ही किए जा रहे हैं लेकिन प्रमाण-पत्रों को बनाने का काम आनलाइन ही हो रहा है।
ऑनलाइन आवेदन का तरीका
नगर निगम की तरफ से जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने पहुंच रहे लोगों को जागरूक करने का काम भी किया जा रहा है। इसमें लोगों को आनलाइन आवेदन करने के तरीकों के बारे में भी जानकारी दी जा रही है। आनलाइन प्रमाण पत्र बनवाने की नई प्रक्रिया के तहत व्यक्ति को ऑफिस ऑफ रजिस्ट्रार जनरल ऑफ इंडिया के वेब पोर्टल पर लॉगिन करना होगा। इसके बाद वेबसाइट के होमपेज पर जनरल पब्लिक साइनअप लिंक पर जाना होगा। वहां ऑनलाइन आवेदन का विकल्प होगा, जिसमें मांगी गई जानकारी भरकर आनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को पूरा करना होगा। इसके साथ ही ऑनलाइन आवेदन में मौजूद जरूरी डॉक्यूमेंट्स को अपलोड भी किया जा सकेगा। इसके वेरीफिकेशन के बाद निर्धारित प्रक्रिया पूरी होने पर 21 दिन के भीतर जन्म और मृत्यु सर्टिफिकेट आनलाइन जारी कर दिया जायेगा, जिसको वेबसाइट पर आसानी से देखा जा सकता है। उन्होंने बताया कि अभी मैनुअल आवेदन किए जा सकेंगे, लेकिन प्रक्रिया के ठीक से शुरु हो जाने के बाद मैनुअल आवेदन की प्रक्रिया बंद कर दी जाएगी। वहीं, ऑनलाइन आवेदन के लिए जन सुविधा केंद्र की मदद ली जा सकेगी। मैनुअल आवेदन के बाद भी प्रमाण.पत्र ऑनलाइन ही जारी किए जाएंगे। इसके अलावा आवेदन की स्थिति के बारे में व्यक्ति अपने स्मार्ट फोन के माध्यम से भी जानकारी हासिल कर सकता है। इसके लिए सर्टिफिकेट पर क्यूआर कोड भी दिया गया है, जिसे स्कैन करने पर प्रमाण-पत्र की पूरी डिटेल स्क्रीन पर डिस्प्ले हो जाती है। वहीं, रजिस्ट्रार जन्म एवं मृत्यु पंजीकरण की वेबसाइट पर भी ऑनलाइन वेरीफिकेशन किया जा सकता है।

Pin It