ऑनर किलिंग के मामले में पुलिस खाली हाथ

प्रेमिका की मां, भाभी व ससुर से पुलिस ने की पूछताछ

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मलिहाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम बंशीगढ़ी के जंगल मे हत्या कर फेंके गये प्रेमी युगल के शवों के मामले में पुलिस ने कई स्थानों पर छापेमारी की लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। आरोपियों पर दबाव बनाने व उनका सुराग लगाने के लिए पुलिस ने मृतक युवती की मां व भाभी को थाने लाकर पूछताछ भी की। लेकिन पुलिस को कोई सुराग तक नहीं मिला।
ग्राम सिरगामऊ निवासी सूरज धानुक व युवती सरोज पाल का प्रेम प्रसंग कई वर्षों से चल रहा था। अलग-अलग जाति के होने के कारण परिजन इसमें बाधक थे। सरोज के पिता रामऔतार पाल ने इसका विवाह दो वर्ष पूर्व सण्डीला थाना क्षेत्र के ग्राम ककरारी निवासी मंजेश से कर दिया था। इसके बावजूद दोनों का प्रेम प्रसंग जारी रहा।
गत 18 जुलाई को सरोज अपनी ससुराल से अपने प्रेमी सूरज के साथ भाग निकली थी। इस प्रेमी युगल के शव सोमवार को ग्राम बंशीगढ़ी के जंगल मे सड़ी गली अवस्था मे मिले थे। शव मिलने के दो दिन पूर्व युवती सरोज के घर से उसका पिता रामऔतार, भाई तिवारी व शिवकुमार, चाचा मिश्री, चचेरे भाई हिन्ना, लल्लू, बुद्धा व शिवराम सहित थाना गुडम्बा के ग्राम बहादुरपुर निवासी रामऔतार का मंझिला दामाद फरार हो गये थे। मृतक सूरज की मां गुडिया इनके खिलाफ हत्या करने का आरोप लगाई। पुलिस युवती के ससुर मिश्रीलाल को हिरासत मे ले संदिग्ध आरोपियों के ठिकानों के बारे मे पूंछतांछ कर रही है। घटना के सम्बन्ध में पुलिस को अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली है। युवती के ससुराल से भागने के बाद उसके पति मंजेश ने बहला फुसलाकर भगाने व युवती द्वारा घर से एक लाख रूपया उठा ले जाने की रिर्पोट 19 जुलाई को सण्डीला थाने मे दर्ज करायी थी। माना जा रहा था कि सण्डीला मे युवती भगाने के दर्ज मामले के कारण इस हत्याकाण्ड की तफ्शीश सण्डीला पुलिस ही करेगी। फिलहाल अभी तक पुलिस प्रेमी युगल के कातिलों का घटना के चार दिन बाद भी नहीं लगा सकी है।

Pin It