एलयू में फिर भिड़े छात्र

एक दिन पहले हॉस्टल की मेस में रोटी को लेकर हुई थी लड़ाई
छात्रों में प्रॉक्टोरियल विभाग का नहीं है डर

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में मार-पीट की घटनाए प्रॉक्टोरियल विभाग के लिए चुनौती साबित हो रही है। पहले तो घटनाएं कभी-कभी होती थी लेकिन जब से विवि प्रशासन ने इस पर सख्ती बरती है तब से घटनाएं थमने के बजाए बढ़ती ही जा रही है। गुरुवार को कॉर्मस के छात्र के साथ अन्य छात्रों ने मार-पीट की। यही नही छात्रों का बीच बचाव करने वाले शिक्षक को भी धक्का दे दिया गया। शिक्षकों का डर तो इन छात्र को कभी था ही नही जो थोड़ा बहुत डर प्रॉक्टोरियल विभाग का होता था वह भी अब खत्म होता दिखाई पड़ रहा है।
बुधवार को सुभाष हॉस्टल के मेस में एक रोटी को लेकर दो छात्र भिड़ गए थे। इस प्रकार की घटनाएं आए दिन लखनऊ विश्वविद्यालय में होती है। बृहस्पतिवार को बीकॉम के छात्र अब्दुल करीम अपने प्रवेश प्रक्रिया पूरी कर रहा था उसी समय कुछ छात्र वहां आ गए औैर उससे बहस करने लगे जिस पर छात्र ने अपने भाईयों को बुलाने की बात कही, जिस पर छात्र भडक़ गए औैर छात्रों को गाली देते हुए पीटना शुरु कर दिया। बीच-बचाव करने आए विभाग के शिक्षको भी धक्का दे दिया। प्रॉक्टर के आने की सूचना पर छात्र भाग गए। छात्र अब्दुल ने प्रॉक्टर ऑफिस में शिकायत दर्ज करायी। एडिशनल प्रॉक्टर डा. नीरज जैन ने बताया कि घटना की जानकारी विभाध्यक्ष और पुलिस दोनो को दे दी गई है। एडिशनल प्रॉक्टर ने कहां कि अब से छात्रों के साथ-साथ इनके अभिभावकों को भी नोटिस भेजा जाएगा, ताकि इससे बच्चों की स्थिति का अंदाजा उन्हें भी होता रहे। आए दिन विवि परिसर में हो रही मार-पीट को लेकर कुलपति ने प्रॉक्टोरियल विभाग को चेतावनी देते हुए ढंग से कार्रवाई कर पिछले दिनों हुई घटनाओं की रिपोर्ट मांगी गई है। सवाल यह उठता है कि विवि परिसर का माहौल छात्रों के लिए इतना खराब है तो छात्राएं विवि में कैसे सुरक्षित रह पाएगी।

Pin It