एलयू के न्यू कैंपस में एडिशनल प्रॉक्टर के विरोध में छात्रों का हंगामा

  • कुलपति और राज्यपाल से की समस्याओं की शिकायत

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय के न्यू कैंपस के विधि संकाय में पिछले दो दिनों से छात्रों को परेशान किया जा रहा है। वहीं एडीशनल प्रॉक्टर की तानाशाही को लेकर गुरूवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कुलपति से मिलने पहुंचा। एबीवीपी ने कुलपति एसबी निमसे परिसर में हो रहे छात्र-छात्राओं की समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करने के लिए ज्ञापन दिया।
साथ ही इस पूरे मामले की शिकायत राजभवन में भी की।
विश्वविद्यालय के न्यू परिसर के विधि संकाय में छात्र-छात्राएं अडिशनल प्रॉक्टर की धमकी से परेशान हैं। छात्रों का नेतृत्व कर एबीवीपी के कार्र्यकर्ताओं ने गुरूवार को विवि परिसर में जमकर हंगामा किया। साथ ही कुलपति से मिलने पहुंचे छात्र-छात्राओं ने होने वाली समस्याओं के लिए कुलपति को ज्ञापन सौंपा। छात्रों का आरोप है कि छात्रों कई दिनों से विवि प्रशासन को अपनी समस्याओं को बता रहे हैं लेकिन विवि प्रशासन ने हमारी समस्याओं को नजर अंदाज कर रखा है। इस संबंध में विवि प्रशासन का गैर जिम्मेदाराना रवैया देखते हुए एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपा। छात्रों को आरोप है कि छात्राओं को जबरन क्लास करने का दबाव बनाया जा रहा है। यदि छात्राएं क्लास करने पहुंचती हैं तो उन पर टिप्पणियां की जाती हैं।

यह था पूरा मामला

जानकीपुरम स्थित एलयू के न्यू कैंपस में पिछले तीन दिन पूर्व मनोनीत किये गये एडिशनल प्रॉक्टर मोहम्मद अहमद को हटाने की मांग को लेकर छात्रों ने मंगलवार से ही कुलपति से मांग कर रहे हैं। न्यू कैम्पस के डीन आर.के.सिंह की सिफारिश पर न्यू कैम्पस में मोहम्मद अहमद को एडिशनल प्राक्टर बनाया गया है,जिसके बाद से छात्रा आक्रोशित हैं। छात्रों का आरोप है कि तीन वर्ष पूर्व छात्राओं पर अभद्र टिप्पणी करने को लेकर इनक शिकायत तत्कालीन डीन ओम नारायण मिश्र से की गयी थी। इसी के बाद छात्राएं व अधिकतर छात्र उनकी कांस्टीट्यूशन की कक्षा में न जाकर प्रोफेसर आनन्द विश्वकर्मा की कक्षाएं लेते थे। छात्रों ने बताया कि पिछले कई महीनों से खुन्नस खाये मो.अहमद ने एडिशनल प्राक्टर का चार्ज सम्भालते ही छात्राओं व छात्रों को उनके कमरे में जाकर धमकाना शुरू कर दिया साथ ही उन्हें परीक्षा में परिणाम भुगतने के लिए धमकी दी।

Pin It