एलडीए में एक साथ 1046 कर्मियों के तबादले से कर्मचारियों में रोष

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। एलडीए कर्मचारी संघ ने उपाध्यक्ष द्वारा जारी किए गए तबादलों के आदेश का विरोध किया है। वहीं तबादलों को लेकर लखनऊ विकास प्राधिकरण के कर्मियों में आक्रोश व्याप्त है। कर्मचारी संघ ने आरोप लगाया है कि शासनादेश के अनुरूप तबादले नहीं किए गए हैं। नियमानुसार दस फीसद से ज्यादा तबादले नहीं किये जा सकते हैं। इसके बावजूद एक साथ 1046 तबादले करना शासनादेश की अवहेलना है।
एलडीए कर्मचारी संघ के महामंत्री दिनेश शुक्ला ने बताया कि एलडीए में पिछले कुछ माह से तानाशाही चल रही है। पदाधिकारियों ने कहा कि तबादला करना नियमानुसार अधिकारियों का अधिकार है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कुल स्टाफ का साठ फीसदी हटाकर जनसुविधा केंद्र व अन्य स्थानों पर भेज दिया जाए। श्री शुक्ला ने कहा कि एलडीए उपाध्यक्ष सत्येन्द्र सिंह वर्तमान में शंघाई दौरे पर हैं। उनके आते ही इतनी बड़ी संख्या में तबादलों का विरोध किया जाएगा।
इसके अलावा उत्तर प्रदेश विकास प्राधिकरण कर्मचारी महासंघ ने भी स्थानांतरण के विरोध में गेट मीटिंग कर स्थानांतरण वापस करने की मांग की है। विरोध में भारतीय मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष जय नारायण तिवारी ने समर्थन देने का आह्वान किया है।

Pin It