एलडीए के गेट-2 पर कूड़ेदान में मिली शराब की बोतलें, जिम्मेदार चुप

एलडीए के गेट-2 पर कूड़ेदान में मिली शराब की बोतलें, जिम्मेदार चुप

  • आखिर अब तक क्यूं नहीं पड़ी किसी अधिकारी व कर्मचारी की नजर
  • आरोप- यहां काम खत्म होने के बाद देर शाम छलकते हैं जाम

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) दफ्तर के मुख्य द्वार दो पर कूड़ेदान में पड़ी शराब और बियर की बोतलों ने पीएम मोदी के स्वच्छता अभियान और कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए हैं। एलडीए दफ्तर के कूड़ेदान में रखी शराब की बोतलें कर्मचारियों की लापरवाही बताती है कि वे किस कदर लापरवाही बरतते हैं। ऐसी लापरवाही पर एलडीए के किसी जिम्मेदार पर अब तक क्यूं नहीं नजर पड़ी।
एलडीए में शराब की बोतलों के संबंध में जब वहां के लोगों से फोरपीएम ने बात की तो कानाफूसी करते हुए बताया कि काम खत्म होने के बाद यहां जाम छलकते है और ये जाम छलकाने वाले बाहरी नहीं बल्कि विभागीय कर्मचारी व अधिकारी ही होते हैं। कुछ लोगों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि एलडीए द्वारा निर्मित भवनों की लगातार शिकायतें सामने आ रही हैं। पीडि़त दिनभर चक्कर लगाते रहते हैं। मगर यहां तो ये अधिकारी व अफसर शाम को जाम छलकाने की जुगत में लगे रहते हैं। गोमतीनगर के विपिन खण्ड में लखनऊ विकास प्राधिकरण का दफ्तर है। इस दफ्तर में राजधानी को सौंदर्यीकरण करने के साथ ही विकास के कार्य होते हैं। नगर निगम से मिलकर राजधानी को साफ-सुथरा रखने का काम भी एलडीए करता है। एलडीए मुख्यालय के मुख्य द्वार के गेट दो से सटे हुए फुटपाथ पर रखे कूड़ेदान में खाली शराब, बियर की बोतल और गिलास पड़े हुए हैं। यह बोतले साफ बताती हैं कि शाम होते ही एलडीए दफ्तर में अधिकारी और कर्मचारी जाम छलकाते हैं। खास बात यह है यहां रोजाना सैंकड़ों अधिकारियों और कमर्चारियों का आना जाना है। बावजूद इसके किसी का ध्यान इस ओर नहीं गया।

गेट पर अगर शराब की बोतलें मिली हैं तो यह चिंता का विषय है। एलडीए दफ्तर में ऐसी चीजें कहां से आई है। इसकी जांच करवाई जाएगी। इसके बाद दोषी लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
एमपी सिंह, सचिव एलडीए

आलू लदा ट्रक गड्ढे में पलटा, तीन लोग घायल, एक की मौत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गुरुवार सुबह करीब चार बजे गोसाईगंज के रहमतनगर गांव के पास एक डीसीएम गड्ढे में पलट गई। हादसे में एक की मौत हो गई। वहीं चालक सहित तीन गंभीर घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं गंभीर घायलों को ट्रॉमा सेंटर भेजा गया।
सुबह करीब चार बजे करीब गोसाईंगंज के रहमतनगर के पास आलू लदी डीसीएम अनियंत्रित होकर गड्ढे में जाकर पलट गई। हादसे में डीसीएम पर बैठे आलू व्यापारी लालाराम 60 की मौत हो गई। वे पिन थाना जहानगंज फर्रुखाबाद का रहने वाला था। वहीं महुआ नगला थाना छिबरामऊ कन्नौज का रहने वाला चालक प्रमोद 30 व किसजोर सिंह 28, निवासी भौसे नगला छिबरामऊ कन्नौज और उसका भाई सोनू 22 गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर भेज गया है। डीसीएम कन्नौज से फैजाबाद मंडी जा रही थी। डीसीएम में फंसे लोगों को पुलिस व ग्रामीणों की मदद से निकाला गया।

शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल में शामिल हुए 28 मंत्री

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
भोपाल। मध्य प्रदेश में भाजपा की शिवराज सरकार का आज मंत्रिमंडल विस्तार किया गया, जिसमें राजभवन में 28 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। इसमें शिवराज सिंह के पिछले मंत्रिमंडल में सीनियर विधायक व पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव भूपेंद्र सिंह यशोधरा, राजे विजय शाह ने मंत्री पद की शपथ ली। अब शिवराज के मंत्रिमंडल में 34 मंत्री हो गए है।
इस मंत्रिमंडल में ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के 11 नेता मंत्री बने हैं। इनमें सिंधिया खेमे के महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रभु राम चौधरी, प्रद्युमन सिंह तोमर, इमरती देवी, राजवर्धन सिंह, बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश धाकड़, गिर्राज दंडोतिया, ओ पी एस भदौरिया, हरदीप सिंह डंग, बिसाहूलाल सिंह और एंदल सिंह कसाना को मंत्री बनाया गया है। इस मंत्रिमंडल में उपचुनावों में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने की रणनीति के तहत सिंधिया को सबसे ज्यादा महत्व दिया गया है।

भाजपा पार्षद पति ने करा लिया पांच मंजिला अवैध निर्माण

  • एलडीए व पुलिस प्रशासन पर मिलीभगत का आरोप शिकायत पर कार्रवाई नहीं

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में एक तरफ भू-माफियाओं पर नकेल कसी जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ रसूखदारों को संरक्षण दिया जा रहा है। रूलिंग पार्टी की सदस्यता लेकर पूर्व पार्षद ने कल्याणपुर में बिना नक्शा पास कराए ही अवैध निर्माण करा डाला है। आरटीआई एक्टिविटिस्ट लक्ष्मीकांत सिंह ने इसकी शिकायत 2018 में एलडीए और पुलिस को की। बावजूद अब तक मामले में
कोई कार्रवाई नहीं की गई।
आरटीआई एक्टविस्ट लक्ष्मीकांत का आरोप है कि कल्याणपुर के शंकरपुरवा वार्ड 2 में पूर्व में बसपा और सपा के पूर्व पार्षद रामू ने पांच मंजिला अवैध निर्माण पुलिस और एलडीए की मिलीभगत से करवाया है। जबकि भवन का कोई नक्शा भी पास नहीं करवाया है। लगातार बिल्डिंग में चोरी छिपे काम चल रहा है। रामू पाल की पत्नी रूलिंग पार्टी से मौजूदा क्षेत्रीय पार्षद हैं। इसके चलते कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। वर्ष 2018 में एलडीए ने एफआईआर दर्ज करने के आदेश भी दिए थे। एलडीए के अधिकारियों के मुताबिक बिल्डिंग को सील कर दिया गया है। आरोप है निर्माण एलडीए में बगैर नक्शा पास कराए किया गया है। लक्ष्मीकांत का कहना है कि सरकार व प्रशासन को इसके खिलाफ सख्त कदम उठाना चाहिए। ताकि कोई भी अवैध निर्माण न कर सके। साथ ही भाजपा पार्टी को दागदार न सके।

विधायक अदिति सिंह की सदस्यता रद्द करने पर निर्णय 16 जुलाई तक

  • विधानसभा अध्यक्ष ने फैसला सुरक्षित रखा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ । रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की सदस्यता रद्द करने संबंधी याचिका पर विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने फैसला सुरक्षित रख लिया है। अब 16 जुलाई तक इस पर निर्णय लिया जा सकता है। अदिति के अलावा दो अन्य विधायकों राकेश सिंह व नितिन अग्रवाल की सदस्यता रद्द करने पर फैसला लिया जा सकता है।
गौरतलब है कि कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने विधायक अदिति सिंह की सदस्यता समाप्त करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष 26 नवंबर 2019 को एक याचिका दी थी। कांग्रेस का आरोप है कि रायबरेली सदर से विधायक अदिति सिंह ने पार्टी व्हिप का उल्लंघन करते हुए 2 अक्टूबर 2019 को योगी सरकार द्वारा बुलाए गए विशेष सत्र में हिस्सा लिया। जबकि पार्टी ने गांधी जयंती पर सरकार के इस विशेष सत्र का बहिष्कार करते हुए विधायकों के लिए व्हिप जारी किया था। इससे पहले 31 मई 2019 को कांग्रेस ने अपने एक और विधायक राकेश सिंह की सदस्यता रद्द करने के लिए याचिका दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *