एयर सिक्योरिटी के साए में पहली बार होगी पीएम मोदी की रैली

11 दिसंबर को बहराइच में आयोजित है रैली 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

captureलखनऊ। उत्तर प्रदेश के बहराइच में 11 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की होने वाली प्रस्तावित परिवर्तन रैली के लिए बेहद खास इंतजाम किए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री की ये रैली पहली बार एयर सिक्योरिटी के साए में होगी।
इस रैली के दौरान सेना के हेलीकॉप्टरों को रैली क्षेत्र के आठ किलोमीटर दायरे में तैनात किया जाएगा। दरअसल बहराइच से नेपाल सीमा के सटे होने और आंतकी संगठन अलकायदा की ओर से प्रधानमंत्री को टारगेट बनाए जाने की वजह से यह कदम उठाया जा रहा है। आईबी और खुफिया एजेंसियों के मुताबिक, प्रधानमंत्री मोदी के आतंकी संगठनों के निशाने पर होने के कारण सिक्स लेयर सुरक्षा का खाका खींचा गया है। रैली स्थल और उसके आसपास का पांच किलोमीटर का इलाका हर तरह से प्रशिक्षित कंमाडों के दायरे में होगा। इन कमांडों के पास अत्याधुनिक हथियारों के साथ खोजी कुत्ते और बम डिस्पोजल सक्वायड भी तैनात होंगे।
मंच के आसपास ट्रिपल लेयर सुरक्षा घेरा होगा। इसके अलावा मंच और लोगों के बीच के फासले में लंबी दूरी रखी जाएगी। चुनिंदा नेताओं के अलावा किसी को भी हार पहनाने और गुलदस्ते देने की इजाजत नहीं होगी। बहराइच में होने वाली प्रधानमंत्री की इस रैली में लगभग पांच लाख लोगों की भीड़ जुटने की उम्मीद जताई जा रही है। रैली बहराइच से तीन किलोमीटर आगे नानपारा रोड पर होगी, जिसका समय 11 बजे निर्धारित किया गया है। रैली की पूर्व संध्या से समापन तक नेपाल सीमा से प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा।

Pin It