एयरपोर्ट अथॅारिटी ने कमिश्नर को लिखा पत्र

एयरपोर्ट क्षेत्र की जमीन को ग्रीन बेल्ट से मुक्त कराने की मांग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। एयरपोर्ट अथॉरिटी ने मण्डलायुक्त को पत्र लिखकर एयरपोर्ट क्षेत्र की जमीन को ग्रीन बेल्ट से मुक्त करने की मांग की है। इस पत्र का संज्ञान लेकर मण्डलायुक्त ने लखनऊ विकास प्राधिकरण के चीफ टाउन प्लानर जेएन रेड्डी से जमीन का ब्यौरा मांगा है। फिलहाल एलडीए ने एयरपोर्ट अथॉरिटी क्षेत्र में आने वाली जमीन से जुड़े मामलों की पड़ताल शुरू कर दी है।
लखनऊ विकास प्राधिकरण ने हवाई अड्डे के आस-पास करीब 50 एकड़ जमीन को ग्रीन बेल्ट में शामिल किया है। यहां किसी तरह का निर्माण नहीं हो सकता, लेकिन अब एयरपोर्ट अथॉरिटी एयरपोर्ट विस्तार के मकसद से ग्रीन बेल्ट हटवाना चाह रहा है। एलडीए से मिली जानकारी के मुताबिक, अगर एलडीए ग्रीन बेल्ट से हवाई अड्डे की जमीन को हटाता है तो आसपास की जमीनों को भी हटाना पड़ेगा। यह मुद्दा अत्यंत गंभीर है, इसलिए एलडीए ने पूरे मामले पर शहरी व ग्राम नियोजन विभाग से सुझाव मांगा है। इन दोनों विभागों के अधिकारियों ने एयरपोर्ट अथॉरिटी से जुड़ी जमीनों की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। एलडीए के चीफ टाउन प्लानर जेएन रेड्डी ने मण्डलायुक्त का पत्र मिलने के बाद एयरपोर्ट अथॉरिटी से जुड़ी जमीनों की जांच पड़ताल का काम शुरू कर दिया है। इसके साथ ही यह भी आशंका व्यक्त की जा रही है कि यदि एयरपोर्ट अथॉरिटी की जमीनों को ग्रीन बेल्ट से मुक्त किया जाता है, तो ग्रीन बेल्ट विकसित करने की योजना में फेरबदल होना भी तय है। इसलिए ग्रीन बेल्ट पर शहरी व ग्राम नियोजन विभाग की रिपोर्ट मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी।

Pin It