एमडीएस स्टूडेंट की आत्महत्या की वजह तलाशने में जुटी पुलिस

हॉस्टल प्रबंधन और परिजनों से भी लगातार की जा रही पूछताछ

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पीजीआई थाना क्षेत्र स्थित सरदार पटेल डेंटल कालेज में एमडीएस की छात्रा प्रेरणा ने आत्महत्या कर ली। उसका शव गल्र्स हास्टल के कमरा नंबर 105 में पंखे से लटकता पाया गया लेकिन आत्म हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। इस मामले में पुलिस ने हॉस्टल प्रबंधन और छात्रा के परिजनों से पूछताछ शुरू कर दी है। इसके अलावा शव को पोस्टमार्ट के लिए भेज दिया गया है, जिसकी रिपोर्ट पर भी पुलिस की निगाह बनी हुई है।
इलाहाबाद के धूमनगंज स्थित जयंतीपुर गांव निवासी प्रेरणा चौधरी रायबरेली रोड स्थित सरदार पटेल डेंटल कॉलेज से एमडीएस कर रही थी। वह एमडीएस प्रथम वर्ष की छात्रा थी और बीडीएस के गल्र्स हॉस्टल में कमरा नंबर-105 में विशेष परमीशन लेकर रह रही थी। एसओ पीजीआई विनोद कुमार यादव के मुताबिक सोमवार को प्रेरणा के भाई एडवोकेट संजीव ने सुबह से लेकर शाम तक उसके मोबाइल फोन पर कई बार काल किया लेकिन जवाब नहीं मिला। जब शाम तक बात नहीं हुई तो उन्होंने कॉलेज प्रशासन को मामले की जानकारी दी। तलाश के दौरान अंदर से बंद कमरे में प्रेरणा का शव लटकता मिला। कॉलेज प्रशासन ने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

आदेश पर जब ने हॉस्टल की केयर टेकर स्मृता को प्रेरणा के बारे में पता लगाने का निर्देश दिया। जब केयर टेकर प्रेरणा के कमरे में पहुंची तो उसका कमरा अंदर से बंद मिला। इसके बाद उन्होंने बगल वाले कमरे में रहने वाली बीडीएस छात्रा की मदद से स्टूल पर खड़े होकर खिडक़ी से प्रेरणा के कमरे में झांका। वहां प्रेरणा का शव कमरे में पंखे के हुक से दुपट्टे के सहारे लटकता मिला। इसके बाद कालेज प्रशासन ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दरवाजा तोड़ा और शव को बाहर निकाला गया। पुलिस को कमरे की छानबीन में मोबाइल फोन के अलावा कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है। मोबाइल फोन की छानबीन से भी अभी तक कोई खास जानकारी नहीं मिल पाई है। इसके बावजूद पुलिस मामले की छानबीन कर आत्महत्या ेके कारणों का पता लगाने में जुटी है। प्रेरणा का मोबाइल फोन अभी भी पुलिस के कब्जे में है।
गौरतलब है कि होली के त्यौहार की वजह से गल्र्स हास्टल की अधिकतर स्टूडेंट छुट्टी में घर चली गई थीं। प्रेरणा भी शनिवार को ही घर जाने वाली थी लेकिन उसी दिन शाम को वापस हॉस्टल आ गई। पुलिस ने हॉस्टल की अन्य छात्राओं से भी प्रेरणा के बारे में पूछताछ की लेकिन अभी तक आत्महत्या की कोई ठोस वजह पता नहीं चल पाई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर भी पुलिस की निगाह लगी हुई है। हो सकता है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही कुछ सुराग मिल सके।

Pin It