एक टीका नौ बीमारियों से दिलायेगा मुक्ति

बच्चे के साढ़े तीन माह का होने पर पोलियो खुराक के साथ इंजेक्शन भी लगाया जएगा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। निजी क्षेत्र में पहले से लग रही पैंटावैलेंट वैक्सीन अब सरकारी टीकाकरण का हिस्सा बन गयी है। पेंटावैलेंट वैक्सीन के आ जाने से एक टीका बच्चों को नौ बीमारियों से मुक्ति दिलायेगा।
राजधानी में कल एक होटल में यूनिसेफ, विश्व स्वास्थ्य संगठन, राष्टï्रीय स्वास्थ्य मिशन व प्रदेश सरकार के संयुक्त आयोजन में पेंटबैलेंट टीके को स्वास्थ्य राज्य मंत्री शंखलाल मांझी ने प्रस्तुत किया। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि दिसम्बर माह से ही सरकारी अस्पतालों में ये टीके लगना शुरू हो गया है। इसका सर्वाधिक लाभ गांव के रहने वाले लोगों को मिलेगा। अभी तक बच्चों को जन्म के बाद डेढ़ माह, ढाई माह वा साढ़े तीन माह का होने पर डिप्थीरिया, काली खांसी और टिटनेस का एक और हेपेटाइटिस का भी एक टीका लगाया जाता है। इस तरह हर बार दो – दो इंजेक्शन लगाये जाते थे। अब इन बीमारियों के साथ पांच अन्य बीमारियों निमोनिया, मैनेजाइटिस, सैप्टिक आर्थराइटिस, सेप्टीसीमिया व मैनिंगोकोकल के लिए होने वाले हिब टीकाकरण को मिलाकर कुल नौ बीमारियों के लिए एक ही इंजेक्शन लगेगा। बच्चे के साढ़े तीन माह का होने पर तीसरी पोलियो खुराक के साथ पोलियो का एक इंजेक्शन भी लगाया जएगा।

Pin It