एकेटीयू ने छात्रों को फेल करने का इतिहास दोहराया

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
41लखनऊ। डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में एक बार फिर से इतिहास दोहराया जा रहा है। एक बार फिर परीक्षा में फेल छात्रों ने विवि की मुल्यांकन प्रक्रिया पर सवालिया निशान लगा दिया है। कई दिनों से छात्र न्याय की आस लिए एकेटीयू परिसर में धरने पर बैठे हैं। वहीं गुरूवार को फेल छात्रों ने समस्याओं के समाधान न होने पर प्रदेश भर के फेल छात्र इक_ïा होकर कुलपति के खिलाफ नारे बाजी कर जमकर हंगामा काटा। मौके पर पुलिस ने किसी तरह बीच बचाव कर छात्रों को शांत किया।
छात्रों का आरोप है कि विवि पहले भी कई बार स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा ले चुका। इस बार वह क्यों हम लोगों की परीक्षा नहीं ले रहा है। यह बात समझ से परे हैं। जबकि पिछले साल भी कुलपति ने सैकड़ों छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ किया था। ऊंचे रसूख के कारण कुलपति कार्रवाई से बच जाते हैं लेकिन इसका खामियाजा छात्रों को भूगतना पड़ता है।

छात्रों की भीड़ देख बंद करवाया विवि का मेन गेट

छात्रों ने गुरुवार को इंजीनियरिंग कालेज चौराहे पर हंगामा किया। छात्रों के विवि पहुंचने की सूचना कुलपति को मिलते ही विवि का मेन गेट बंद करने का आदेश सुरक्षा गार्ड को दिया गया। छात्र जब कुलपति से मिलने विवि पहुंचे तो सुरक्षा गार्ड ने गेट खोलने से मना कर दिया। आक्रोशित छात्रों ने कुलपति मुर्दाबाद व वीसी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी जैसे नारे लगाते हुए हंगामा किया। छात्र काफी देर तक कुलपति से मिलने की जिद में नारेबाजी करते रहे। मामला गम्भीर होता देख सुरक्षा गार्ड ने इसकी सूचना कार्यालय में दी। सूचना पर छात्रों को शांत करने के लिए कुलपति का प्रतिनिधिमंडल छात्रों से मिलने पहुंचा,लेकिन कुलपति को मौके पर न पाकर छात्रों में और आक्रोश बढ़ गया। पुलिस व प्रतिनिधिमंडल से छात्रों की काफी देर वार्ता के बाद बड़ी मुश्किल से छात्रों को शांत कराया गया। जल्द ही छात्रों की समस्याओं का समाधान करने का आश्वासन भी दिया गया। जल्द कार्रवाई न होने पर आत्मदाह करने की चेतावनी दी है।

यह था पूरा मामला

पिछले वर्ष भी दर्जनों छात्रों को ऐसे ही फेल कर दिया गया था। उन छात्रों ने साल भर तक एकेटीयू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। यहां तक कि शासन-प्रशासन से न्याय न मिलने से निराश एकेटीयू के छात्रों ने न्याय के लिए हाईकोर्ट तक गुहार लगाई । एकेटीयू के कैरीओवर परीक्षा में फेल 86 छात्र पिछले दो माह से एकेटीयू के परिसर और शासन-प्रशासन के गलियारों में चक्कर लगाते-लगाते थक-हारकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से इच्छा मृत्यु कर गुहार तक लगा चुके है।

Pin It