उपकरणों की खरीद फरोख्त के आरोप में घिरा डीजीपी मुख्यालय

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पूरे प्रदेश के विभागीय कार्यालयों के लिए उपकरणों की खरीद में पुलिस मुख्यालय पर अंगुली उठने लगी है। टेंडर प्रक्रिया में हिस्सा ले रही दो कंपनियों के अलावा एक विधायक ने भी इस मामले की जांच के लिए डीजीपी जावीद अहमद को पत्र लिखा है।
जानकारी के मुताबिक, पुलिस मुख्यालय की ओर से 2 डिजिटल मल्टीफंक्शनल फोटो कापियर मशीन ए-3 साइज, 22 इमरजेंसी पोर्टेबल लाइट, 1296 मल्टीफंक्शनल फोटोकापियर, 1084 मल्टीफंक्शनल फैक्स मशीन, व 5 केवीए के पांच जनरेटरों की खरीद के लिए टेंडर मांगा था। टेंडर प्रक्रिया में शामिल दो कंपनियों से डीजीपी को पत्र लिखकर पुलिस मुख्यालय की ओर से अपनाई जा रही खरीद की प्रक्रिया पर सवाल उठाया है। दोनों कंपनियों ने खरीद प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने की मांग की है, कंपनियों का दावा है कि संबंधित उपकरणों के उत्पादन में उनकी विशेषज्ञता है और प्रदेश सरकार के ही विभिन्न विभागों में वे पहले ही आपूर्ति करते आ रहे हैं। उधर फेफना (बलिया) से विधायक उपेन्द्र तिवारी ने भी कंपनियों की शिकायत पर डीजीपी को पत्र लिखकर निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है। उनका कहना है कि पुलिस मुख्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी की शह पर खरीद की प्रक्रिया में गड़बड़ी करने की कोशिश की जा रही है।

Pin It