ई-सुविधा में बिल जमा करना है तो पूरे दिन की ऑफिस से लें छुट्ïटी

6 महीने से बनी हुई है सर्वर की समस्या 

Captureउपभोक्ता बिल जमा करने के लिए ई-सुविधा के लगाते हैं रोज चक्कर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। ई-सुविधा का नाम आते ही जेहन में यह खयाल आता है कि एक जगह पर सारी समस्या का समाधान। लेकिन लखनऊ के ई-सुविधा केन्द्र में ऐसा नहीं है। किसी को बिजली का बिल जमा करना है तो तीन-चार घंटे का वक्त लेकर जाए, तभी बिल जमा हो पाएगा। ई-सुविधा में सर्वर की समस्या पिछले 6 माह से बनी हुई है।
ई-सुविधा के लखनऊ में कई केन्द्र है। 1090 चौराहे पर ई-सुविधा का जो आफिस है वहां पर लिखा है कि 24 घंटे, सातों दिन की सुविधा, लेकिन ऐसा है नहीं। सरकार की मंशा थी कि लोगों को घंटों लाइन में खड़े होने से निजात मिले। लेकिन यहां ऐसी सुविधा है कि लाइन लगने की गुंजाइश ही नहीं बनती। कारण हर रोज कोई न कोई समस्या यहां बनी रहती है। ई-सुविधा के अधिकतर ब्रांच में लगभग 6 माह से सर्वर की समस्याएं बरकरार है जिसके चलते लोगों को बिना बिल जमा किए ही वापस आना पड़ रहा था। हद तो तब हो गयी जब ऐसा ही हाल समता मूलक चौराहे पर बने ई-सुविधा के हेड ऑफिस का था। जहां लोग सुबह से बिल जमा करने पहुंचे थे लेकिन वहां कर्मी नदारद और सर्वर की समस्या ने लोगों को परेशान कर रखा था।
वूमेन पावर लाइन के पास ई-सुविधा के ब्रांच में तो सर्वर की समस्याएं चल ही रही है इसके साथ-साथ मिठाई वाला चौराहे पर और लखनऊ विश्वविद्यालय के पास के ई-सुविधा केंद्र व शहर के अन्य ब्रांच का भी यही हाल है। लोग बिल जमा करने जाते तो है मगर लम्बी लाईन के बाद उन्हें वैसे ही वापस आना पड़ता है। बिल जमा न होने का कारण पूछने पर जिम्मेदार एक सुर में बोल पड़ते है कि सर्वर खराब है जिसकी वजह से हम बिल नही जमा कर सकते। इन ब्रांच में काम कर रहे लोगों से यदि कोई ज्यादा सवाल करता है तो यही जवाब दिया जाता है कि हेड ऑफिस में शिकायत की गई है जल्द ही ठीक कराया जाएगा। ब्रांच के कर्मी अपनी जान छुड़ाने के लिए लोगों को हेड ऑफिस भेजते हैं लेकिन वहां के हालत इनसे भी बत्तर है। ई-सुविधा केंद्रों पर तो कर्मी यह बताने के लिए मिल जाते है लेकिन हेड ऑफिस केवल एक महिला कर्मी के भरोसे चल रहा है। वहां भी सर्वर की समस्याएं बरकरार हैं। कुछ लोग तो काफी देर से सर्वर के ठीक होने का इंतजार कर रहे थे। छोटे दुकानदार हो या नौकरी पेशा लोग सभी को इस नुकसार की भरपाई करनी पड़ रही है। कोई बिल जमा करने में देर के कारण बॉस से डांट सुनता है तो कोई दुकान पर आए ग्राहक के वापस होने के चलते नुकसान झेलता है। सभी इस ई-सुविधा की असुविधा से परेशान है।

सरकार की ई-सुविधा योजना पूरी तरह फ्लाप है

अक्सर हमें बिल जमा करने में देर होती है जिसकी वजह से बॉस बरस पड़ते हैं। घंटों समय देने के बाद भी बिल नही जमा हो पाता पर देर की वजह से डांट तो खाने को मिल जाती है। इस बार जब हम बिल जमा करने हेड ऑफिस पहुंचे तो वहां भी इंतजार के बाद वापस आना पड़ा। इसे सुविधा कहने का मन नही करता।
-विजय पाल, नौकरी

हम लोग ई-सुविधा में बिल जमा करने पहुंचे तो पता चला कि अभी सर्वर ठीक नही है। दस बजे गये और 2:30 तक इंतजार करते रहे लेकिन सर्वर ने ठीक नहीं हुआ। मेरी साइकल रेपयरिंग की दुकान है। इतनी देर में बिल तो जमा नही हुई लेकिन हमारी दुकान बंद होने की वजह से बहुत नुकसान हुआ। इसे तो अच्छा है कि सरकारी विभाग में पहले कि तरह ही बिल जमा कर आए।
मोहम्मद सलीम, बिजनेस

सरकार की यह योजना पूरी तरह से फ्लाप है कोई फायदा नही जितनी देर बिल जमा करने जाओं उतनी देर में 500 से 1000 रुपए का नुकसार उठाना पड़ता है। यह सर्वर की समस्या तो खत्म होने का नाम नही लेती है।
सुरेन्द्र कुमार गौतम, बिजनेस

Pin It