ईमानदार की होती है पूजा : डीआईजी

दंड ही नहीं पुलिसकर्मियों को किया जायेगा सम्मानित: एसएसपी

Capture 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। व्यक्ति अपने कार्य में बदलाव करे और ईमानदारी से कार्य करे तो उसे हर कोई सम्मानित नजरों से देखता है। को अपने जीवन में ऐसा कुछ कार्य करना चाहिये जिससे उसे पुरस्कार मिले। उक्त बातें डीआईजी लखनऊ रेंज आरके चतुर्वेदी ने मॉर्डन कंट्रोल रूम में अच्छा कार्य करते पर पुलिसकर्मियों को सम्मानित करते हुये व्यक्त किये।
इस दौरान उपस्थित एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने कहा कि छोटी या बड़ी गलतियों पर दंड तो हमेशा दिया जाता है। जबकि अच्छा कार्य करने पर सम्मानित करने का कार्य कम हो गया है। सम्मानित करने का कार्य भी किया जायेगा। इस दौरान एएसपी मॉर्डन कंट्रोल रूम दुर्गेश कुमार सहित अन्य पुलिसकर्मी मौजूद रहें।
मई माह में इनको मिला सम्मान
मई माह में आरक्षी अरविंद पाल ने कॉल टेकिंग के दौरान 734 व आरक्षी राजलक्ष्मी ने 643 सीएफएस बनाकर रेस्पांस समय को न्यूनतम रखते हुये प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त किया। फीडबैक में आरक्षी सुनीता शर्मा व बेस्ट सपोर्ट में महिला आरक्षी अपर्णा चौहान का प्रदर्शन सराहनीय रहा। मई माह में परिचालक देवेंद्र सिंह ने 990 व अनिल कुमार ने 869 लोगों की सूचनाओं पर 10 मिनट के भीतर तक पहुंचकर प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त किया। जबकि सिस्टम सपोर्ट में प्रधान परिचालक मनोज कुमार शुक्ला एवं अजीत कुमार ने अचछा प्रदर्शन किया। रेस्पॉन्डर्स यूनिट में पावर 15 पर तैनात एचसीपी ब्रज भूषण, आरक्षी राम अवतार, आनंद सिंह, रवींद्र प्रताप वर्मा, अमर सिंह व पावर 8 पर नियुक्त सब इंस्पेक्टर शिव कुुमार सिंह, आरक्षी सचिन सिंह तथा आरक्षी शैलेंद्र कुमार राय, अमितेश रावत, ओम प्रकाश, सत्येंद्र कुमार को सम्मानित किया गया।
जून माह में इनको मिला सम्मान
जून माह में महिला आरक्षी विद्योतमा द्विवेदी ने कॉल टेकिंग के दौरान 854 और महिला आरक्षी अपर्णा चौहान ने 785 लोगों की समस्याएं सुनकर रेस्पांस को न्यूनतम रखते हुए प्रथम एवं द्वितीय स्थान हासिल किया। तमन्ना खान ने लगभग चार हजार कॉलरों से फीडबैक प्राप्त की। राजेंद्र कुमार सिंह ने 16 शिफ्टों में 971 सूचनाओं पर 15 मिनट के अंदर व प्रधान परिचालक मुंशी राम ने 25 शिफ्टों पर 15 मिनट के अंदर कार्रवाई पूर्ण कराकर प्रथम एवं द्वितीय स्थान हासिल किया। पावर 18 पर नियुक्त एचसीपी त्रिभुवन नाथ, हरनाम सिंह, आरक्षी धर्मेंद्र नाथ मिश्रा, यशवीर सिंह, सरोज कुमार, धर्मेंद्र कुमार तथा पावर 24 पर नियुक्त उप निरीक्षक अनुज कुमार सोनकर एवं उमेश चंद्र नैथानी, आरक्षी धर्मेंद्र सिंह, अभयराज सिंह, फिरोज खान, दिग्विजय सिंह, असलम, पवन कुमार शर्मा तथा 17 पर नियुक्त सिपाही शैलेंद्र कुमार राय, अमितेश रावत, ओम प्रकाश, सत्येंद्र कुमार को सम्मानित किया गया।

Pin It