ईद के मौके पर राजधानी के सभी बाजार हुए गुलजार

  • डिजाइनर कपड़ों से लेकर लजीज सेवइयों की खरीदारी करने वालों की जुट रही भीड़

Capture

ऐश्वर्या गुप्ता

लखनऊ। ईद का त्यौहार हो और लखनऊ के बाजारों की बात न हो, ऐसा मुमकिन नहीं। ईद के नजदीक आते ही बाजारों की रौनक पहले से ज्यादा बढऩे लगी है। शाम से देर रात तक खरीदारों की भीड़ दिखाई देने लगी है। इत्र हो, तरह-तरह के डिजाइनर कपड़े, सेवइंया या रंग बिरंगी जूतियां हों, इन सभी का जमकर कारोबार हो रहा है। बच्चे, बूढ़े, युवा और महिलाएं ईद के त्यौहार को खास बनाने के लिए अपनी-अपनी पसंद की चीजों की खरीदारी करने में व्यस्त हैं।
पिछले दो-तीन दिनों से मौसम में थोड़ा सुधार तो आया है, लेकिन उमस अब भी बरकरार है। इसके चलते लोग दिन के मुकाबले शाम को और देर रात तक खरीदारी करते नजर आ रहे हैं। ईद में मुश्किल से एक दिन का समय बाकी रह गया है। खरीदारी की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। नौजवान, बच्चे, पुरुष और महिलाएं कपड़ों की दुकानों पर पसंदीदा टोपी, पठानी सूट, चूड़ीदार कुर्ता-पायजामा, सलवार-कुर्ती और फैन्सी ड्रेस मैटीरियल के लिए जद्दोजहद करते नजर आ रहे हैं। ग्राहकों की पसंद को ध्यान में रखकर दुकानदारों ने भी लेटेस्ट फैशन से जुड़े डिजाइनर और पॉपुलर ब्रांड के कपड़ों का स्टॉक सजा रखा है। दुकानों में ग्राहकों की एक फरमाइश पर अलग-अलग रंगों और डिजाइन के कई ड्रेस उपलब्ध हैं। ईद की मिठास को यादगार बनाने वाली सेवइयां बाजारों की रौनक बढ़ा रही हैं। दुकानों पर करीब 8-10 कैटेगरी की सेवइयां बिक रही हैं। इन लजीज सेवइयों का स्वाद लेने के लिए बच्चे ही नहीं परिवार के बड़े और बुजुर्ग भी ईद का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

देशी इत्र की डिमांड बरकरार
बाजार में एक से बढक़र एक खुशबूदार इत्र मौजूद हैं। इसमें ब्रांडेड कंपनियों के परफ्यूम तो लोग खरीद रहे हैं लेकिन लोगों की पहली पसंद अभी भी देसी इत्र ही हैं। हजरतगंज में इत्र का कारोबार करने वाले सरफराज का कहना है कि वह पिछले कई सालों से इस व्यवसाय में हैं। ईद के मौके पर उनकी बिक्री बढ़ जाती है। इन दिनों ब्रांडेड कंपनियों के परफ्यूम के मुकाबले देसी इत्र की मांग ज्यादा है। ईद पर खरीदारी करने वाले लोग अरब देशों में बिकने वाले इत्र की काफी डिमांड कर रहे हैं। विदेशी इत्र को मंगवाना महंगा पड़ता है। ऐसे में हर व्यक्ति विदेशी इत्र खरीद भी नहीं पाता लेकिन देशी इत्र की खूब बिक्री हो रही है। देसी इत्र में केमिकल का इस्तेमाल नहीं होने के कारण लोग अधिक पसंद कर रहे हैं। बाजार में देसी इत्र 100 से 1500 रुपए की कीमत में मौजूद है।

पंजाबी सूट की डिमांड
ईद को देखते हुए बाजार में तरह-तरह के कपड़े भी मौजूद हैं। इन दिनों मार्केट में सुल्तान मूवी का क्रेज अधिक देखने को मिल रहा है। कोई अनुष्का शर्मा जैसी डिजाइनर सूट पहन के अपनी अदा बिखेरना चाहता है तो कोई भाईजान जैसी शेरवानी तलाश रहा है। साथ ही पाकिस्तानी स्टाइल के बुर्के और सूट भी महिलाओं को बहुत पसंद आ रहे हैं। बाजारों में पंजाबी सूट की कीमत 6 से 7 हजार तक है। सहादत गंज में रहने वाली ईला काजमी कहती हैं की उन्हें ट्रेंड से जुड़े रहना अच्छा लगता है। इसलिए इस बार अनुष्का शर्मा जैसी ड्रेस खरीदी है। हजरतगंज में कई सालों से रेडीमेड कपड़ों की दुकान लगाने वाले रहमान अली का कहना है कि वो हमेशा अपनी दुकान में लेटेस्ट ट्रेंड से जुड़े कपडे लेकर आते हैं क्योंकि आज के समय में डिजाइनर कपड़ों की ज्यादा मांग है। इसके अलावा ईद के बाजार में कढाईदार जूतियां महिलाओं की पहली पसंद बनी हुई हैं।

Pin It