ईटीवी ने किया कमाल, ताजा आंकड़ों में फिर यूपी में बना नंबर वन

यूपी के 62 प्रतिशत लोग देखते हैं सिर्फ ईटीवी

सूबे के सभी मत्रियों, अफसरों और सीएम के यहां भी दिन भर चलता है ईटीवीcapture


4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। प्रदेश के सबसे चर्चित रीजनल चैनल ईटीवी ने एक बार फिर बाजी मार ली। वह न्यूज चैनल्स की रेटिंग और टीआरपी में प्रदेश का नंबर वन चैनल बन गया है। ताजा आंकड़ों के अनुसार प्रदेश की 62 प्रतिशत जनता केवल ईटीवी पर समाचार देखती है। इससे निश्चित तौर पर ईटीवी की विश्वसनीयता लोगों के बीच बढ़ी है।
ईटीवी पर पिछले दिनों प्रदेश सरकार के मंत्रिमण्डल से मंत्रियों की बर्खास्तगी, मुख्य सचिव का तबादला, नये मुख्य सचिव की नियुक्ति और अन्य सभी घटनाक्रमों की सबसे पहले और पुख्ता जानकारी देखर ईटीवी ने लोगों के बीच अपनी जगह और विश्वसनीयता को बनाने का काम किया। प्रदेश सरकार के के मुख्य सचिव दीपक सिंघल का तबादला, गायत्री प्रजापति और राजकिशोर सिंह की मंत्रिमण्डल से बर्खास्तगी, सपा के प्रदेश अध्यक्ष पद से अखिलेश यादव को हटाने, उनकी जगह शिवपाल सिंह यादव को प्रदेश अध्यक्ष बनाने, शिवपाल की नाराजगी, मुलायम सिंह यादव का दोनों नेताओं के बीच सुलझ का प्लान और चाचा-भतीजे का एक होने का दावा समेत सभी प्रमुख खबरों को ईटीवी चैनल्स पर सबसे पहले दिखाया गया। ईटीवी और ब्रजेश मिश्रा ने ट्विटर के माध्मय से लोगों को घटनाक्रम का पूरा विवरण उपलब्ध करवाया। इसलिए लोगों ने प्रदेश के अन्य सभी न्यूज चैनल्स को छोडक़र ईटीवी देखना शुरू कर दिया। ताजा आंकड़ों में ईटीवी प्रदेश का नंबर बन रीजनल चैनल बन गया है। इससे ईटीवी की पूरी टीम उत्साहित है। ईटीवी कार्यालय में इस उपलब्धि को लेकर जश्न का माहौल है।

 

Pin It