इलाज के लिए दर-दर भटकता रहा मरीज

  • केजीएमयू के चिकित्सकों ने वेंटीलेटर खाली न होने की बात कहकर मरीज को लौटाया

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में गम्भीर मरीज को वेंटीलेटर न मिलने के कारण परिजनों ने जमकर हंगामा किया। उनका आरोप था कि मरीज की हालत लगातार बिगड़ रही थी। उसके बाद भी मरीज को भर्ती नहीं किया गया। जबकि इमरजेंसी में तैनात डॉक्टरों से उन्होंने काफी विनती की लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी।
जब इमरजेन्सी के चिकित्सकों ने मरीज को भर्ती नहीं किया, तो परिजनों के सब्र का बांध टूट गया। उन लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। बाद में अस्पताल से अन्य चिकित्सक भी मौके पर पहुंच गये। उन लोगों के समझाने बुझाने पर मामला शांत हुआ। गौरतलब है कि शुक्रवार की सुबह 4 बजे गोण्डा निवासी मानिकराम को परिजन लोहिया संस्थान की इमरजेंसी लेकर पहुंचे। वहां पर मौजूद चिकित्सकों ने वेंटीलेटर खाली न होने की बात कह कर मरीज को कहीं और ले जाने की बात कही, जिसे सुनकर परिजन भडक़ गये। परिजनों का कहना था कि पूरी रात केजीएमयू में धक्के खाने के बाद मरीज को यहां के लिए रेफर किया गया है। अब यहां पर भी वेंटीलेटर खाली न होने के चलते डाक्टर कहीं और जाने की बात कह रहे हैं। ऐसे में मरीज को इलाज मिलता तो दूर उसकी हालत और बिगड़ती जा रही है।

Pin It