इंदिरा भवन में धरने पर बैठीं सुपरवाइजर्स

लखनऊ। सुपरवाइजर्स एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के आह्वïान पर इंदिरा भवन में सैकड़ों महिला सुपरवाइजर्स अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गई हैं। इसमें प्रदेश भर से महिला सुपरवाइजर्स इकट्ठा हुई हैं। जो अपनी मांगें पूरी होने के बाद ही धरना समाप्त करने की मांग पर अड़ी हुई हैं। एसोसिएशन की प्रान्तीय महामंत्री शशिकान्ता के मुताबिक सुपरवाइजर्स एसोसिएशन अपनी मांगों को लेकर लगातार संघर्ष कर रहा है। सरकार हमेशा झूठे वादों और आश्वासनों का हवाला देकर मामले को ठंडे बस्ते में डाल देती है। इससे संगठन की महिलाओं में काफी आक्रोश है। एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सर्वसम्मति से 2 नवंबर से इंदिराभवन में अनिश्चितकालीन धरना देने का निर्णय लिया था। प्रदेश भर की महिला सुपरवाइजर्स आज सुबह 10 बजे इंदिरा भवन पहुंच गईं। वहां एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ 200 से अधिक महिलाएं धरना दे रही हैं।

एसोसिएशन की प्रमुख मांगों में विभाग की तरफ से गलत ढंग से किया गया स्थानान्तरण वापस लेना, मुख्य सेविका संवर्ग का वेतनमान ग्रेड पे 2800 से उच्चीकृत कर 4800 किया जाना, संविदा पर काम करने वाली मुख्य सेविकाओं को नियमित करने, मुख्य सेविकाओं को तत्काल ए.सी.पी का लाभ दिये जाने, पदोन्नति की प्रक्रिया पूर्ण करने और मुख्य सेविकाओं का उत्पीडऩ समाप्त करना शामिल है। हालांकि प्रशासन का पूरा प्रयास है कि संगठन के पदाधिकारियों से बात कर धरना जल्द से जल्द समाप्त करवा दिया जाय। इसमें धरने पर बैठे लोगों के खिलाफ बल प्रयोग भी किया जा सकता है लेकिन सैकड़ों की संख्या में महिला सुपरवाइजर्स धरने पर बैठ गई हैं।

Pin It