आवेदन सुधार के बाद जारी होगी मेरिट

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
Captureलखनऊ। एलयू में स्नातक में प्रवेश के लिए आए आवेदन फार्म के सत्यापनों में बहुत गड़बड़ी सामने आ रही है जिससे प्रवेश में देरी हो सकती है। छात्रों द्वारा गलत फार्म भरने की वजह से मेरिट बनने में दिक्कत हो रही है।
लखनऊ विश्वविद्यालय में स्नातक में प्रवेश का आधार मेरिट है। इस समय आए प्रवेश फार्मों का सत्यापन चल रहा है। सत्यापन में अनेक गड़बडिय़ां पायी जा रही हैं। सबसे ज्यादा गलतियां सीबीएसई से 12वीं पास छात्रों के फार्म में हैं। बारहवीं के रिजल्ट में अच्छे पांच सब्जेक्ट के नम्बर जोड़े जाते हैं। यहां छात्रों ने पांच के स्थान पर छह विषयों के नम्बरों को जोड़ा है। उसका प्रतिशत निकाल कर आवेदन फार्म में भर दिया है। ऐसी स्थिति में प्रतिशत पूरी तरह से गलत हो रहा है। गुरुवार को 70 से अधिक आवेदनों में इस प्रकार की समस्या सामने आयी। सत्यापन के दौरान केवल 17 से 18 छात्रों का फार्म सही पाया गया। सत्यापन कर रहे अधिकारियों ने बताया कि छात्रों ने अपने प्रतिशत बढ़ाने के लिए उन विषयों के नम्बरों को भी जोड़ दिया है जिसमें उनके ज्यादा नम्बर आये थे। प्रवेश के नियम के हिसाब से छात्रों को केवल मुख्य विषयों के ही अंक प्रतिशत आवेदन फार्म में भरना था। छात्रों ने मुख्य विषयों के साथ-साथ अन्य विषयों के भी अंक को जोड़ कर प्रतिशत निकाला है, जिससे फार्म को सुधारना पड़ रहा है। इससे प्रवेश में देरी हो सकती है। प्रवेश समन्वयक प्रो. राजकुमार सिंह ने बताया कि वैरीफिकेशन और करेक्शन की प्रक्रिया चल रही है। सबसे ज्यादा गड़बड़ी सीबीएससी से पास छात्रों के आवेदन फार्मों में पायी जा रही है। इसमें सुधार करने के लिए टीम लगी हुई है। सुधार के बाद ही मेरिट जारी की जायेगी।

Pin It