आरक्षण के मुद्दे पर माया ने भाजपा पर बोला बड़ा हमला

  • हरियाणा की भाजपा सरकार ने जानबूझ कर कानून को बनाया कमजोर
  • जब तक कानून वास्तविक रूप से लागू नहीं होता, सरकार के बहकावे में न आए जाट समुदाय

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। बसपा सुप्रीमो मायावती ने हरियाणा की भाजपा सरकार द्वारा जाट समुदाय को आरक्षण की सुविधा देने के मामले में धोखेबाजी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मनोहर लाल खट्टïर सरकार की इस मामले में शुरु से नीयत और नीति सही नहीं थी। इस वजह से संबंधित कानून को त्रुटिपूर्ण बनाया गया और कोर्ट ने इस पर रोक लगा दी है। इसलिए जब तक कानून लागू नहीं हो जाता जाट समुदाय को भाजपा सरकार के बहकावे में नहीं आना चाहिए।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने आज एक बयान जारी कर यह बातें कहीं। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि खासकर हरियाणा राज्य में जाट समुदाय को अन्य पिछड़े वर्ग में शामिल करके सीधे तौर पर उन्हें आरक्षण की सुविधा प्रदान करने के मामले में कांग्रेस व भाजपा दोनों ही पार्टियों की सरकारें ईमानदार नहीं रही हैं। इसी कारण वहां के जाट समुदाय के लोगों को बार-बार आंदोलन करना पड़ा और पुलिस की लाठी भी खानी पड़ी। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने जाटों के साथ छल किया है। उनके जबर्दस्त आंदोलन की वजह से उनके सामने झुक गई लेकिन उन्हें आरक्षण देने के बजाए एक अलग पिछड़ा वर्ग बनाकर उन्हें आरक्षण की सुविधा देने संबंधी कानून बना दिया गया। इतना ही नहीं उस कानून की बुनियाद ठोस आधार पर नहीं रख कर केवल खानापूर्ति करने वाला कानून बनाया गया, जिसकी वजह से हाईकोर्ट ने उसके अमल पर अंतरिम तौर पर स्थगन आदेश दिया है। मायावती ने कहा हरियाणा सरकार ने ऐसा जानबूझकर किया है। इससे हरियाणा भाजपा सरकार की जातिवादी नीयत व नीति पूरी तरह से दोषी है।

Pin It