आयकर ने सीज किए 1 करोड़ 60 लाख

इंडियन बैंक को महंगा पड़ा नियमों का उल्लंघन

चुनाव आयोग को भेजी रिपोर्ट, निगोहां में चेकिंग के दौरान कार से मिले थे रुपये

capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी के निगोहां थाना क्षेत्र में एक कार से बरामद हुए एक करोड़ 60 लाख रुपये आयकर विभाग ने सीज कर दिए। आयकर विभाग ने बैंक से कैश ट्रांसपोर्ट करने के नियमों का उल्लंघन करने पर यह कार्रवाई की और इस मामले की रिपोर्ट चुनाव आयोग को भेज दी है ।
सोमवार की रात निगोहां टोल प्लाजा पर पुलिस ने कार से रुपये बरामद किये थे। पुलिस ने लखनऊ से रायबरेली जा रही अर्टिका कार यूपी 32 जीपी 4899 में सवार तीन लोगों को भी इस मामले में पकड़ा था। इसकी जानकारी आयकर विभाग को दी गई। आयकर आयुक्त आर सोनकर के नेतृत्व में टीम ने मामले की छानबीन शुरू की। कार सवार ने अपना नाम कीर्ति वर्मा बताया था। वह इंडियन बैंक में मैनेजर हैं। उन्होंने बताया कि तेलीबाग रजनीखंड के करेंसी चेस्ट से यह कैश रायबरेली के 11 बैंकों में ले जाया जा रहा था। अन्य दो लोगों से भी पूछताछ की गई। लखनऊ और रायबरेली के इंडियन बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों से भी पूछताछ की गई। पूछताछ और छानबीन से पुष्टि हुई कि बरामद कैश इंडियन बैंक का ही है। लेकिन आयकर अधिकारियों ने इसे छोड़ा नहीं। आयकर अधिकारियों का कहना है कि कैश ट्रांसपोर्ट के लिए निर्धारित नियमों का अनुपालन नहीं किया गया। इस कारण मंगलवार देर शाम आयकर विभाग ने यह पूरा कैश सीज कर दिया। एसडीएम मोहनलालगंज ने कैश को ट्रेजरी में जमा करा दिया है। वहीं इस मामले की रिपोर्ट चुनाव आयोग को भी भेज दी गयी है।

Pin It