अभद्रता से नाराज रिसर्च स्कॉलर्स का दूसरे दिन भी ड्यूटी को लेकर हंगामा

शिक्षकों की कमी के कारण रिसर्च स्कॉलर्स को सौंपी ड्यूटी
4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में दूसरे दिन भी रिसर्च स्कॉलर्स ने ड्यूटी को लेकर हंगामा किया। हगांमे के काफी देर के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने शिक्षकों की कमी को देखते हुए ड्यूटी कराने का फैसला किया।
विश्वविद्यालय की वार्षिक परीक्षाओं में जिन शिक्षकों को तैनाती की गई है उनमें से 40 प्रतिशत शिक्षक गैर हाजिर रहे। परीक्षा में शिक्षकों की कमी को देखते हुए रिसर्च स्कॉलर्स को परीक्षा में डयूटी की अनुमति दी गई। इससे पहले भी विवि में सभी परीक्षाओं में रिसर्च स्कॉलर्स की ड्यूटी लगाई जाती रही हैं। परीक्षा के पहले दिन रिसर्च स्कॉलर्स से गाली-गलौज होने के बाद दूसरे दिन भी अभद्रता सामने आई। इससे भडक़े स्कॉलर्स ने परीक्षा में ड्यूटी करने से मना कर दिया। स्कॉलर्स ने इसकी शिकायत कुलपति से की। इस संबंध में ड्यूटी इनचार्ज प्रो केके अग्रवाल का कहना था कि स्कॉलर्स विभाग से ड्यूटी कराने के लिए पत्र लिखवा कर लाएं। वहीं रिसर्च स्कॉलर्स इस बात से आक्रोशित थे की परीक्षा के एक दिन पहले ही विभागों ने अपने स्कॉलर्स की सूची बनाकर भेजी है। इस बात से गुस्साए छात्रों ने परीक्षा का बहिष्कार कर दिया। वहीं कार्रवाई न होने पर स्कॉलर्स ने दूसरे दिन भी हंगामा किया। विवि प्रशासन एक ओर शिक्षकों की कमी से तो जूझ रहा है तो, दूसरी तरफ जिन शिक्षकों को ड्यूटी के लिए रखा गया उनमें से 40 प्रतिशत शिक्षक गैरहाजिर रहे। ऐसे हालातों को देखते हुए विवि प्रशासन ने रिसर्च स्कॉलर्स को ड्यूटी पर वापस बुला लिया। इस संबंध में केके अग्रवाल का कहना है कि कल सभी विभागों ने रिसर्च स्कॉलर्स की सूची हमें भेजी है ।

Pin It