अब बिजली चोरी रोकने के लिए लगेंगे खास संयंत्र

बिजली के खंभों और ट्रांसफार्मर पर यंत्र लगाकर की जायेगी निगरानी
Captureलैंडिस कम्पनी को दिया गया उपकरण लगाने का टेंडर

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। विद्युत विभाग राजधानी में बिजली चोरी रोकने के मकसद से खास संयंत्र लगवाने जा रहा है। अब खंभों और ट्रांसफार्मर पर खास संयंत्र लगाया जायेगा। विद्युत विभाग ने संयंत्र लगाने का ठेका लैंडिस कंपनी को दे दिया है, जो बहुत जल्द उपकरण लगाने का काम शुरू कर देगी।
लेसा मुख्य अभियंता एसके वर्मा ने बताया कि राजधानी में चोरी पर अंकुश लगाने के मकसद से संयंत्र लगाने का काम जल्द से जल्द पूरा कर लिया जायेगा। खंभों पर लगने वाले उपकरणों के माध्यम से उपभोक्ताओं के बिजली खर्च का आंकड़ा मालूम किया जायेगा। इसके साथ ही प्रयोग की गई बिजली की बिलिंग की गई या चोरी से बिजली जलाई गई, इसकी जानकारी भी संयंत्र से हो जायेगी। विद्युत विभाग के अभियंता उपकरणों से जुड़े उपभोक्ताओं की जांच कर बिजली चोरी करने वालों का पता लगा सकेंगे। इस उपकरण को लगाने का ठेका मेसर्स लैंडिस कंपनी को दिया गया है। उसने सभी खंभों और ट्रांसफार्मरों पर संयंत्र लगाने से संबंधित प्रस्ताव सौंप दिया है। इसको स्वीकृति भी मिल चुकी है। इसके साथ ही पिछले एक वर्ष में तीन बार विशेष अभियान चलाकर लेसा ने बिजली चोरी और लाइन हानियों को रोकने में सफलता हासिल की है। इस नये संयंत्र को लगवाकर विद्युत विभाग बिजली चोरी रोकने के साथ ही राजस्व वसूली में भी बढ़ोत्तरी कर सकेगा।
गौरतलब हो कि बिजली विभाग में बकाया का प्रतिशत चोरी का आठ प्रतिशत है। लेसा को हर महीने बिजली चोरी से करोड़ों रुपये की चपत लगती है। इसलिए लेसा नई तरकीब से बिजली चोरी पर काबू करने की कोशिश कर रहा है। यह उपकरण लेसा मुख्यालय से सीधे जुडऩे वाले उपकरण से बिजली चोरी को आसानी से पकड़ सकेगा। एलटी लाइन पर लगने वाले इस उपकरण में इनकमिंग व आउट गोइंग के टर्मिनल होंगे। जिससे एक साथ कई उपभोक्ताओं को जोड़ा जा सकेगा।
यह उपकरण इनकमिंग व आउट गोइंग की बिजली की रीडिंग को पढेगा और उसकी जानकारी लेसा मुख्यालय व डाटा सेंटर को भेजेगा। इस डाटा को देखकर आसानी से पता लगाया जा सकेगा कि उपकरण से निकलने वाली पूरी एनर्जी की बिलिंग हुई या नहीं। यदि दोनों की रीडिंग में अंतर होगा तो तत्काल उपकरण से जुड़े उपभोक्ताओं की जांच की जायेगी। इसमें किसने और कितनी बिजली चोरी की है, यह मालूम किया जायेगा।

Pin It