अब आमिर के बाद रहमान ने भी कहा मैंने भी झेली असहिष्णुता

आमिर के पक्ष में आए दुनिया के स्टार गायक एआर रहमान
आमिर के बयान के बाद देश भर में हंगामा, पक्ष और विपक्ष में बंटे लोग
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा, कि पत्नी से क्यों बुलवाते हैं खुद क्यों नहीं बोलते आमिर खान
शिवपाल यादव ने कहा यूपी में आकर रहे आमिर खान, रहेंगे सुरक्षित

N14पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आमिर खान के एक बयान ने देश भर में तूफान खड़ा कर दिया है। मोदी सरकार पहले ही परेशानियों से जूझ रही है। देश भर के लेखकों, साहित्यकारों, कवि और वैज्ञानिकों तथा फिल्म इंडस्ट्रीज से जुड़े लोगों ने जिस तरह से देश भर में फैल रही असहिष्णुता का विरोध किया उससे सरकार परेशानी में पड़ गई। दुनियां भर में इस बात की चर्चा शुरू हो गई कि भारत में धर्म को लेकर तनाव बढ़ता जा रहा है। जिस तरह से भाजपा और संघ से जुड़े लोगों ने गाय और धर्म से संबंधित मुद्दों पर बयानबाजी शुरू की उससे साफ हो गया कि अब देश में फिर तनाव की स्थिति बढ़ेगी। रही सही कसर सरकार में शामिल गिरिराज किशोर जैसे मंत्री ने भी पूरी कर दी। यह माहौल चल ही रहा था कि आमिर खान ने यह कहकर मानो बम ही फोड़ दिया कि उनकी पत्नी ने इस असहिष्णुता के बढऩे पर उन्हें देश छोडऩे की सलाह दी थी। इससे पहले शाहरूख खान भी इसी तरह का बयान देकर कट्टरपंथियों के निशाने पर आ चुके हैं। आज आमिर खान के पक्ष में एआर रहमान ने भी कहा कि उन्हें भी असहिष्णुता का सामना करना पड़ा था। यह बात दीगर है कि रहमान ने निशाना मुस्लिम कट्टïरपंथियों पर साधा है।
एआर रहमान ने कहा है कि कुछ महीने पहले ईरानी फिल्म मोहम्मद (मैसेंजर ऑफ गॉड) में काम करने के कारण उन्हें भी आमिर जैसे हालात का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ फतवे में कहा गया कि वह नापाक हो गए हैं और उन्हें फिर से कलमा पढऩे की जरूरत है।
आमिर खान के बयान के बाद कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने आमिर खान के पक्ष में बयान दिया है और कहा है कि प्रधानमंत्री को सोचना चाहिए कि देश में ऐसे हालात क्यों बन रहे हैं। देश भर में प्रदर्शन के बाद आमिर खान समेत फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई लोगों की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है।
भाजपा और संघ ने आमिर खान पर हमला बोला है। भाजपा प्रवक्ता शहनवाज हुसैन ने कहा है कि जिस देश ने आमिर खान को इतना दिया है। उस देश के लिए आमिर खान का ऐसा बोलना शर्मनाक है। देश भर में भाजपा और संघ से जुड़े लोग आमिर खान के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।
विपक्ष अब असहिष्णुता के खिलाफ माहौल बनाने में जुट गया है। कांग्रेस ने लोकसभा में इस मुद्दे को उठाने का मन बना लिया है। कांग्रेस के महासचिव राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि वह धौंस जमाना और धमकाना बंद कर दें। आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश के प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा है कि मोदी सरकार सिर्फ लोगों को धमकाने के लिए काम कर रही है।
फिल्म इंडस्ट्री में अनुपम खेर, ऋषि कपूर, राम गोपाल वर्मा, रवीना टंडन जैसे लोगों ने भी आमिर खान का विरोध किया है। जबकि रजा मुराद ने खुलकर आमिर का साथ दिया है। सोशल मीडिया पर भी आमिर के बयान पर हंगामा मच गया है आमिर खान के बयान के बाद 21 हजार से ज्यादा ट्विट किए गए और 20 घंटे के करीब हैशटैग आमिर खान ट्विटर पर टॉप ट्रेंड में रहा।
मोदी सरकार जानती है कि अगर इन बयानों पर रोक नहीं लगाई गई तो दुनियां भर में उसकी छवि पर खासा असर पड़ेगा। देखना यह है कि इस पर कैसे काबू पाया जा सकता है।

आमिर का यूपी में स्वागत: शिवपाल

यूपी के कद्दावर मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार अहंकारी हो गई है और सरकार के ईशारे पर लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस देश में सबको अपनी बात कहने का अधिकार है और यह अधिकार कोई नहीं छीन सकता। उन्होंने कहा कि आमिर खान की ख्याति पूरी दुनियां में छाई हुई है। उन्होंने सामाजिक मुद्दों के लिए जो काम किया उसकी जितनी प्रशंसा की जाए वह कम है। उन्होंने कहा कि आमिर खान को यूपी में आकर रहना चाहिए। यहां उनकी पूरी सुरक्षा की जाएगी। श्री यादव ने कहा कि देश में लगातार तनाव बढ़ रहा है और यह एक साजिश के तहत किया जा रहा है।

पत्नी का सहारा क्यों ले रहे हैं आमिर खान
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा है कि अगर आमिर खान को इस देश में असहिष्णुता लगती है तो उन्हें यह सोचना चाहिए कि अगर ऐसा होता तो क्या उनकी दूसरी शादी किरण राव से हो सकती थी। उन्होंने कहा कि चंद लोग जान बूझकर इस देश का माहौल खराब करने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने हर बयान में कहा है कि यह देश 125 करोड़ भारतीयों का है। कुछ लोगों को यह खराब लग रहा है कि पहली बार दुनियां भर में भारत का डंका बज रहा है। यही लोग माहौल खराब करने के लिए इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं। हकीकत से इसका कोई वास्ता नहीं है। आमिर खान को सोचना चाहिए कि जिस देश ने उनको इतना दिया उसके खिलाफ बयानबाजी करने का क्या मतलब है।

Pin It