अनशन पर बैठे एकेटीयू के छात्र

  • न्याय नहीं मिला तो सपा सरकार का बॉयकाट करेंगे एकेटीयू के छात्र

Capture4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में आज कैरीओवर परीक्षा में फेल छात्रों ने अपनी मांगों को लेकर एक बार फिर प्रदर्शन किया। छात्र आज विवि गेट पर 48 घंटे के अनशन पर बैठ गए। छात्रों ने अपनी पांच सूत्रीय मांगों को लेकर 17 मार्च से प्रदेश व्यापी आंदोलन फिर से शुरू कर दिया है।
इन छात्रों की मांग है कि सत्र 2014-2015 के उन छात्रों को जिन्हें फेल कर दिया गया है, उन्हें अगले सत्र के लिए प्रमोट किया जाए। छात्रों का कहना है कि यदि इस बार हमारी मांगों को नजरअंदाज किया गया तो हम लोग चुप नहीं बैठेंगे। दो दिन के भीतर हमारी समस्या का समाधान नहीं हुआ तो हम लोग सपा सरकार का बॉयकाट करेंगे। छात्रों ने खुद ही ऑल इंडिया टेक्निकल स्टूडेंटस फेडरेशन के नाम से एक संगठन बना लिया है। जिसके तहत ऐसे सभी छात्र शामिल है जो एकेटीयू के जिम्मेदारों की लापरवाही की भेट चढ़े हैं। इन छात्रों का कहना है कि यदि दो दिन के भीतर उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो सभी छात्र प्रदेश भर के छात्रों से लैपटॉप इकट्ठा करके मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को वापस करेंगे। इस घोषणा के साथ ही छात्रों ने एकेटीयू के गेट पर 48 घंटे का अनशन शुरू कर दिया है।

यह था पूरा मामला

बताते चलें कि शासन-प्रशासन से न्याय न मिलने से निराश एकेटीयू के छात्र न्याय के लिए हाईकोर्ट तक गुहार लगा चुके हैं। छात्रों का आरोप है कि एकेटीयू प्रशासन अपनी बेवजह की जिद की वजह छात्रों के भविष्य को दांव पर लगा रखा है। एकेटीयू के कैरीओवर परीक्षा में फेल 86 छात्र पिछले दो माह से एकेटीयू के परिसर और शासन-प्रशासन के गलियारों में चक्कर लगाते-लगाते थक-हारकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से इच्छा मृत्यु कर गुहार तक लगा चुके है। इन छात्रों ने न्याय के लिए प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव से लेकर प्राविधिक मंत्री तक को भी पत्र लिखा लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ। छात्रों को उन्हें न्याय तो नहीं मिला, अलबत्ता उन पर लाठियां जरूर भाजी गई। विवि कैंपस में अपनी समस्याओं के निस्तारण की गुहार लगाई तो वहां से भविष्य बर्बाद करने की धमकी देकर भगा दिया गया।

Pin It