अखिलेश ने पेश किया अब तक का सबसे बड़ा बजट

3.46 लाख करोड़ का है अखिलेश का बजट कृषि शिक्षा और स्वास्थ्य पर ज्यादा जोर

सीएम ने बजट के दौरान लिया संकल्प-जनता के लिए जिसके मन मे प्यार नही है, जनतंत्र मे वह कुर्सी का हकदार नहीं है

Y4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश किया। मुख्यमंत्री ने 12.20 मिनट पर यह बजट पेश किया। बजट 3.46 लाख करोड़ रुपये का है। मुख्यमंत्री का यह पांचवा बजट है। इसमें किसानों और आम जनता की योजनाओं के लिए विशेष राशि दी गयी है। सरकार का जोर कृषि, शिक्षा और स्वास्थ्य पर है। चुनावी साल का बजट होने के कारण यह ज्यादातर आम लोगों के लिए है। इसमें शिक्षा और स्वास्थ्य को ज्यादा महत्व दिया गया है।
इस बजट में किसानों के लिए विशेष राशि रखी गई है। फसल बीमा योजना और ओलावृष्टिï नुकसान की भरपाई के लिए भी प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए प्रशिक्षण केन्द्र भी खोलने की योजना हंै। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने एक जून 2012 को अपना पहला और वित्त वर्ष 2012-13 का आम बजट पेश किया था, तब इसका आकार 1,94,327.28 करोड़ था। 2015-16 में यह 3,02,687.32 करोड़ था।
साल 2016-17 का बजट अब तक का सबसे बड़ा बजट है। यह बजट करीब 3.46 लाख करोड़ रुपये का है। सरकार ने कई बड़ी योजनाएं भी शुरू की हैं। साल 2016-17 के बजट से एक दिन पहले गुरुवार को अखिलेश सरकार ने विधानमंडल में वर्ष 2015-16 के लिए 27,758.98 करोड़ रुपये का दूसरा अनुपूरक बजट पेश किया था। अपने बजट पेश करने के दौरान सीएम अखिलेश यादव ने अपना अंदाज-ए-बया कुछ इस तरह से किया। ‘‘जबसे पतवारों ने मेरी नाव को धोखा दिया मैं भंवर में तैरने का हौंसला रखने लगा।’’

बजट एक नजर

 कन्नौज में आलू की बनेगी विशेष मंडी इसके लिए 102 करोड़ रुपए का प्रावधान
 बुंदेलखंड को विशेष तवज्जो
 7 विशिष्टï मंडियों के लिए 434 करोड़ रुपए
सोलर पंप के लिए 72 करोड़ रुपए आवंटित
कृषक दुर्घटना बीमा योजना 2.50 करोड़ रुपए
गोमती नदी पर कार्य के लिए 250 करोड़ रुपए
जनेश्वर मिश्र पार्क के लिए 140 करोड़ रुपए
3.40 लाख करोड़ का राजस्व प्राप्ति का अनुमान, 5 साल में राजकोषीय घाटा 4 फीसद रहा।
10 लाख से ज्यादा किसानों को डीबीटी का लाभ
राजकीय मेडिकल कालेजों की संख्या 16 हुई।
1200 कौशल विकास प्रशिक्षण केन्द्र खुले
सरयू नहर परियोजना के लिए 2157 करोड़ रुपए
बलिया में नई यूनिवर्सिटी खोलने के लिए 10 करोड़ रुपए
10वीं व 12वीं के मेधावी छात्रों के लिए लैपटॉप 100 करोड़ रुपए
पावरलूम के 15 करोड़ रुपए
नोएडा में मेट्रो का होगा विस्तार सेक्टर 32 से 62 तक
द्य समाजवादी किसान बीमा के लिए 897करोड़ रुपए
आजमगढ़ के विकास के लिए 17 करोड़ रुपए
73 जिलो के लिए ओलावृष्टिï  पीडि़त किसानों के लिए 4498 करोड़ रुपए
लखनऊ विश्वविद्यालय के लिए 35 करोड़
अंशकालिक शिक्षकों के लिए 200 करोड़ रुपए
इलहाबाद यूनिवर्सिटी के लिए 50 करोड़ रुपए
एमबीबीएस की सीटें 1700 हुईं।
हमीरपुर में जैविक खेती के लिए 10 करोड़
किसानों को 93212 करोड़ का फसली ऋण देगी सरकार
बहराइच में किसान बाजार स्थापित किया जाएगा
सूखे वाले जिलों में चारा-दाना विकास कार्यक्रम
सदन में हुआ हंगामा, 20 मिनट रहा स्थगित
बजट पेश होने से पहले विपक्ष दलों बसपा, कांग्रेस, रालोद और बीजेपी ने बुंदेलखंड के किसानों समेत अन्य मुद्दे को उठाते हुए हंगामा किया। इस पर तंज कसते हुए नगर विकास मंत्री आजम खान ने कहा कि विपक्ष अंगुली कटवाकर शहीद होना चाहता है।

Pin It